हम तौ एक एक करि जांनां, संतों देखत जग बौराना

 

1 . कबीरदास ने किसका खंडन किया है ?

  • शासन पक्ष का
  • लोगों के विचारों का
  • संवेदनाओं का
  • बाह्य आडंबर और रूढ़िवाद का

उत्तर

बाह्य आडंबर और रूढ़िवाद का

2. “पीपर पाथर पूजन लागे , तीरथ गर्व भुलाना ” पंक्ति में कौन – सा अलंकार है ?

  • उपमा
  • उत्प्रेक्षा
  • रूपक
  • अनुप्रास

उत्तर

अनुप्रास

3. “मसि कागद छुओ नहि कलम गहि नहि हाथ ” पंक्ति के रचयिता कौन हैं ?

  • तुलसीदास
  • कबीरदास
  • सूरदास
  •  रहीम

उत्तर

कबीरदास

4. कबीर भक्तिकाल के —— धारा के कवि थे –

  • निर्गुण
  • सगुण
  • छायावादी
  • प्रगतिशील

उत्तर

निर्गुण

5. वाराणसी का प्राचीन नाम क्या है ?

  • कुशीनगर
  • काशी
  • प्रयाग
  • लमही

उत्तर

काशी

6. कबीर हिन्दी साहित्य के भक्तिकाल की किस धारा के प्रतिनिधि कवि थे ?

उत्तर

ज्ञानाश्रयी

7. कबीर को ‘ वाणी का डिक्टेटर ‘ किसने कहा है ?

उत्तर

आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी

8. कबीर की भाषा है –

उत्तर

सधुक्कड़ी

9. कवि हिन्दुओं को संबोधित करते हुए कहता है कि —— करते हैं ।

उत्तर

पत्थर की पूजा

10. “एकै खाक गढे सब भांडै एकै कोहरा सांनां । ” इस पंक्ति के खाक और कोहरा शब्द में कौन – सा अलंकार है ?

उत्तर

रूपकातिशयोक्ति

11. दोजग ‘ शब्द का क्या अर्थ है ?

12. अज्ञानी गुरुओं की शरण में जाने पर शिष्यों की क्या गति होती है ?

उत्तर

अंत समय में पछताना पड़ता है

13. कबीर के अनुसार ईश्वर की प्राप्ति कैसे संभव है ?

उत्तर

तीर्थाटन द्वारा

14. कबीर के अनुसार लकड़ी को काटा जा सकता है , परंतु उसकी अग्नि को उससे अलग नहीं किया जा सकता है क्योंकि –

उत्तर

शरीर नष्ट हो जाता है

15. कबीर का जन्म कब हुआ था ?

16. कबीर के दोनों पद उनकी रचना ‘ बीजक ‘ के किस खण्ड से उद्धृत हैं ?

17. कबीर के दूसरे पद में किन पर  प्रहार किया गया है ?

उत्तर

बाह्याडंबरों पर

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.